किसान की उपज का दाम किसान नहीं व्यापारी करेंगे तय - कृषि कानून बिल और डीजल-पेट्रोल की मूल्यवृद्धि के विरोध में कांग्रसियों ने रखा उपवास, दिया धरना

 







शाजापुर। किसान अब उसकी उपज का दाम भी तय नही कर सकते। मोदी राज में किसानों को यह भी हक नहीं है। मोदी सरकार किसानों का शोषण ही जानती है। यदि केंद्र सरकार का बिल इतना ही फायदेमंद होता तो मोदी जी खुलकर किसानों से चर्चा करते न कि बंद कमरे में चंद किसानों को बहलाने का काम करते।



यह बात जिला कांग्रेस अध्यक्ष योगेंद्रसिंह बंटी बना ने ब्लाॅक कांग्रेस द्वारा कृषि बिल, बढ़ती डीजल-पेट्रोल की कीमतों के विरोध में आयोजित धरना आंदोलन को संबोधित करते हुए कही। श्री सिंह ने कहा कि कमलनाथ सरकार ने आते ही सबसे पहले किसानों के कर्ज माफीनामे पर हस्ताक्षर किए थे। इसे कहते हैं किसानों के हितैषी और दूसरी तरफ है केंद्र की मोदी सरकार जिसने किसानों की बिना सहमति अपनी ही मर्जी से काला कानून पास कर दिया है जिसमें किसानों को यह भी हक नहीं दिया गया कि वे अपनी फसल का दाम तय कर सकें। आज हजारों किसान हड्डी गला देने वाली सर्दी मंे सड़क पर बैठ न्याय की राह तक रहे हैं, लेकिन केंद्र में बैठी अंधी और बहरी मोदी सरकार के कान पर जूं तक नहीं रेंगी है। इनसे तों वो लोग अच्छे हैं जो इन किसानों की मदद कर रहे हे। श्री सिंह ने कहा कि मोदी जी कुछ तो शर्म करो और अन्नदाताओं का मान रखो। उन्होंने चेतावनी देते हुए कहा कि यदि जल्द ही यह कृषि कानून वापस नहीं दिया गया या इसमें किसानों की मंषानुरूप संषोधन नहीं किया गया तो प्रदेष से भी हजारों किसान दिल्ली के लिए कूच करेंगे। ये लोग बात तो विकास की बात करते हैं, लेकिन महंगे कोट और घूमने के शौकिन लोगों की सरकार ने डीजल पेट्रोल के दाम आसमान पर पहुंचा दिए हैं। ब्लाॅक कांग्रेस अध्यक्ष इरषाद खान ने कहा कि जब केंद्र में मनमोहन सिंह की सरकार थी और यहां सांसद सज्जनसिह वर्मा थे तब शाजापुर को 5 ट्रेन मिली थी। 10 सालों से भाजपा के सांसद इस जिले में रहे हैं इन्होंने दिखावे के अलावा कुछ नहीं किया है। भाजपा की सरकार की कथनी और करनी में जमीन आसमान का अंतर है। पहले ही जनता की कोरोना काल में कमर टूटकर रह गई है और भाजपा सरकार समस्या कम करने के बजाए उन पर बोझ बढ़ाते जा रही है। कांग्रेस सरकार में कभी इतनी मूल्य वृद्धि नहीं हुई लेकिन आज हर दो दिन में लोगों को डीजल पेट्रोल और गैस के अलावा सभी जरूरी सामानों के दाम आसमान छूते नजर आते हैं। कार्यक्रम को पूर्व सीसीबी अध्यक्ष वीरेंद्रसिंह गोहिल, बालकृष्ण चतुर्वेदी, विधायक प्रतिनिधि आषुतोष शमा, अल्पसंख्यक जिलाध्यक्ष वाजिदअली शाह, नरेष्वर प्रताप सिंह, पार्षद राजेष पारछे, नीजर वैष्णव, पूर्व विधानसभा अध्यक्ष दीपक निगम, विनीत दीक्षित, राजेंद्र बोरसाली ने संबोधित किया। इस अवसर पर पार्षद मूसा आजम खान, राजेंद्रसिंह सेंगर, अकील वारसी, कैलाष गवली, हिरेंद्रसिंह काका, शादाब अली खान, महिला कांग्रेस जिलाध्यक्ष स्मिता सोलंकी, धीरेंद्रसिंह भदौरिया, विनीत वाजपेयी, संजीव त्रिवेदी, आईटीसेल जिलाध्यक्ष देवकरण गुर्जर, जुनेद मंसूरी, बफाती सेठ, विजेंद्र पाटीदार, सलमान शेख, नरेंद्र श्रीवास्तव, दिनेष नायक, न्याजुद्दीन पेंटर, इरषाद नागौरी, सोहेल एहमद, राजेष शर्मा, बद्रीलाल परिहार, फिरोज मंसूरी, दीप कलेषरिया, साजिद कुरेषी, कमरूद्दीन मेव सहित बड़ी संख्या मे कांग्रेसी कार्यकर्ता व पदाधिकारी उपस्थित थे। कार्यक्रम का संचालन अंकित अम्बावतिया ने किया तथा आभार युवा नेता वरूण त्रिवेदी ने माना।

 यह जानकारी जिला कांग्रेस प्रवक्ता पंडित गोविंद शर्मा ने दी ।


Popular posts from this blog

बड़नगर की होटल शिव पैलेस में, पुलिस ने दी दबिश, एक युवक युवती को संदिग्ध अवस्था में लिया हिरासत में

रिश्वत कांड में टी, आई, अर्चना नागर एवं एस ,आई, जीवन भिडोरे सहीत तीन को किया पुलिस लाईन संबद्ध "मामला बड़नगर पुलिस थाने का"

पूर्व विधायक गंगाराम परमार का हुआ निधन,शोक लहर छाई