वोकल फॉर लोकल केवल नारा नहीं इसे चरितार्थ भी करना है : सांसद - सांसद ने टैक्सी से किया शहर भ्रमण, कार्यकर्ताओं को पिलाई चाय

 






शाजापुर। आत्मनिर्भर भारत बनाने के लिए हमें केवल हमारे स्थानीय उत्पादों को खरीदने के अलावा छोटे कामगारों को काम देने की आवश्यकता है। वोकल फॉर लोकल केवल नारा बन कर नहीं रहे। बल्कि इसे राजनेता, व्यापारी, समस्त जनप्रतिनिधि और आमजन भी इसे जीवन में उतारे तभी हमारा आत्मनिर्भर भारत का संकल्प साकार हो सकेगा।



यह बात सांसद महेंद्र सिंह सोलंकी ने नगर प्रवास के दौरान कही। एवं अपना वाहन छोडक़र टैक्सी से शहर के कुछ स्थानों पर सौजन्य भेंट के लिए पहुंचे। उन्होंने कार्यकर्ताओं से कहा कि विश्व के मानचित्र पर भारत एक सशक्त राष्ट: बन कर खड़ा हो सकेगा। यही भारत माता को परम वैभव पर ले जाने का सबसे सुगम मार्ग है। जो हमें देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने दिखाया है। वीआईपी कल्चर को छोडक़र हमें आमजन से जुडऩा होगा तभी वह हमारे वह अपने दुख दर्द हमसे बांट सकेंगे।

टैक्सी से घूमे खुद कार्यकर्ताओं को चाय पिलाई

श्री सोलंकी ने शाजापुर की तंग गलियों को देखते हुए लगने वाले जाम से आमजन को होने वाली परेशानी को देखते हुए अपना वाहन भाजपा कार्यालय में छोडक़र एक टैक्सी लेकर शहर के विभिन्न स्थानों पर पहुंचने का निश्चय किया। इस बाबत श्री सोलंकी ने कहा कि हमारे टैक्सी से घूमने से एक बेरोजगार युवक को काम मिले तो हमें आत्मीय प्रसन्नता होती है। साथ ही बड़े वाहन की अपेक्षा छोटे वाहन आसानी से सभी जगह पहुंच जाते हैं। उनमें घूमना अच्छा लगता है। श्री सोलंकी ने बस स्टेंड स्थित चाय की दुकान पहुंच कर सभी कार्यकर्ताओं को स्वयं अपने हाथों से चाय बनाकर पिलाई

Popular posts from this blog

बड़नगर की होटल शिव पैलेस में, पुलिस ने दी दबिश, एक युवक युवती को संदिग्ध अवस्था में लिया हिरासत में

रिश्वत कांड में टी, आई, अर्चना नागर एवं एस ,आई, जीवन भिडोरे सहीत तीन को किया पुलिस लाईन संबद्ध "मामला बड़नगर पुलिस थाने का"

पूर्व विधायक गंगाराम परमार का हुआ निधन,शोक लहर छाई