श्री गणेशाय नम: दुकान पर हम्माली करने वाला ही निकला आरोपी - हत्या करने के इरादे से घुसा घर में, पाईप के सहारे भाग निकला मामला - सरिया व्यापारी के यहां वृद्धा को घायल करने का

 



शाजापुर। भवन निर्माण सामग्री के व्यापारी सुशील अग्रवाल के घर पर मां पर जानलेवा हमला करने वाला आरोपी और कोई नहीं, व्यापारी की दुकान पर चार सालों से काम करने वाला नौकर निकला। कोतवाली पुलिस ने शंका के आधार पर युवक को गिरवर स्थित घर से हिरासत में लिया। खास बात तो यह है कि आरोपी चोरी की नीयत नहीं बल्कि व्यापारी की हत्या करने के इरादे से घर में घुसा था लेकिन वहां व्यापारी नहीं बल्कि उसकी मां मिली, जिस पर आरोपी ने जानलेवा हमला कर दिया।

कोतवाली थाना प्रभारी उदयसिंह अलावा ने बताया कि सोमवार को कोतवाली पुलिस ने गिरवर निवासी बबलू पिता विक्रम बरगुंडा नामक युवक को पूछताछ के लिए थाने बुलाया। वारदात को लेकर पुलिस को इसी पर शंका थी। कोतवाली थाने के अधिकारी के अनुसार बबलू ने ही वारदात को अंजाम दिया था। जो घर में अकेली वृद्ध महिला विद्यादेवी को घायल कर छत के रास्ते पाइप का सहारा लेकर भाग गया था। इसी कारण वह सीसीटीवी में आते हुए तो दिखाई दिया लेकिन जाते हुए नहीं। हालांकि आरोपी ने जुर्म कबूल कर लिया है और पुलिस ने उसे हिरासत में भी ले लिया है, जिसे आज न्यायालय में पेश किया जाएगा।

इसलिए उठाया था कदम

श्री अलावा ने बताया कि बबलू का रुपए लेनदेन की बात को लेकर व्यापारी सुशील अग्रवाल से विवाद हुआ था। इसी से खिन्न होकर उसने इस वारदात को अंजाम दिया। पूछताछ में यह बात सामने आई है कि बबलू ने कुछ समय पहले व्यापारी अग्रवाल से 15 हजार रुपए मांगे थे लेकिन उसने देने से मना कर दिया। दिनभर की मजदूरी में से भी व्यापारी कुछ हिस्सा काट लेता था। इसी बात से खिन्न होकर उसने इस वारदात को अंजाम दिया और वह हत्या के इरादे से व्यापारी के घर पहुंच गया लेकिन वहां व्यापारी नहीं मिला जिसकी जगह उनकी मां पर आरोपी हम्माल ने हमला कर घायल कर दिया। इसके बाद वह पाईप के सहारे छत से नीचे उतर गया जिसके कारण वह आता दिखाई दे रहा है लेकिन जाते समय वह सीसीटीवी कैमरे में नजर नहीं आया। आरोपी बबलू ने बताया कि उसने घर से उसने एक-दो हजार रुपए नगदी भी चुराए थे।

चार साल से काम कर रहे नौकर को भी नहीं पहचान सका व्यापारी

पुलिस द्वारा संदेही के रूप में जिस नौकर बबलू से पूछताछ की जा रही है वह व्यापारी अग्रवाल की दुकान पर पिछले चार सालों से हम्माली का काम कर रहा है। ऐसे में वारदात के दौरान सीसीटीवी में कैद हुई आरोपी युवक की तस्वीर देखने के बाद भी नहीं पहचाने जाने की बात को लेकर भी व्यापारी की संदिग्ध भूमिका सामने आई है।

इनका कहना है...

रुपए के लेनदेन को लेकर आरोपी का विवाद व्यापारी से हुआ था और वह उसकी हत्या करने के इरादे से ही घर में घुसा था। आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है, जिसे बुधवार को न्यायालय में पेश किया जाएगा।

Popular posts from this blog

बड़नगर की होटल शिव पैलेस में, पुलिस ने दी दबिश, एक युवक युवती को संदिग्ध अवस्था में लिया हिरासत में

रिश्वत कांड में टी, आई, अर्चना नागर एवं एस ,आई, जीवन भिडोरे सहीत तीन को किया पुलिस लाईन संबद्ध "मामला बड़नगर पुलिस थाने का"

पूर्व विधायक गंगाराम परमार का हुआ निधन,शोक लहर छाई