माता पिता का इकलौते पुत्र की, पानी में ढुबने से हुई मृत्यु

 




(चुन्नीलाल परमार )


बड़नगर। भाटपचलाना ईश्वर का खेल देख , सुन ,जानकर हम स्तम्भ रह जाते हैं । इस वर्ष की वर्षाकाल में तीन घटनाएं ऐसी घटीत हुई, जिसने समंझा , समंझ पश्चात् व्याकुल हुए बीना नहीं रह पाया। बड़नगर तहसील के गांव अजड़ावदा में कुछ अर्से पूर्व माता पिता के दो पुत्र थे, दोनों एक साथ पानी में ढुबने से मृत्यु हो गई ! इसी प्रकार गांव दंगवाड़ा में कुल का एक दीपक था, वह भी पानी में ढुबकर हमेशा के लिए बुझ गया । हमारे संहयोगी संवाददाता,सोनू योगी ओर निलेश परमार ने वार्ता के दौरान , वाकिया बंया किया की , भाटपचलाना निवासी कमल सिंह पिता माधो सिंह जी परिहार का इकलौता पुत्र लोकेंद्र सिंह आयु 14 वर्ष अपनी मवेशियों को नदी तट पर आज दिनांक 3 नवंबर को तड़के 11: 30 बजे चरा रहा था ।, अनायास मवेशी की टक्कर लगने से, नदी के गहरे भरे पानी में बालक लोकेंद्र सिंह गिर गया। परिजनों को पता लगते से ही ,बच्चे को पानी से निकाल , किन्तु जब-तक बच्चे के प्राण पंखेरू उड़ चूके थे। पुलिस ने मर्ग कायम कर , शव को अपने कब्जे में लेकर, पोस्टमार्टम करवाकर, शव को परिवार को अंतिम संस्कार करने के लिए सोप दिया ।, प्रकरण को अनुसंधान में ले लिया हैं । पुरे परिवार का , रो रो कर बुरा हाल हो रहा ।


एसी घटनाओं ने , हर ऐक व्यक्ति को सोचने के लिए मजबूर कर दिया ।


Popular posts from this blog

जनता को लूटने के लिए लगाए जा रहे हैं नए मीटर --विधायक महेश परमार

करणी सेना मूल की महारैली में उमड़ा जनसैलाब। हजारों की संख्या में पहुंचे

एसपी के कड़े निर्देष के बाद भी कई थाना क्षेत्रों में फल-फूल रहा सट्टा कारोबार अधिकारियों की आंखों में धूल झोंक कई थाना प्रभारियों की शै पर सटोरिये पर्चियों के साथ-साथ मोबाइल पर खिला रहे गुल