लालघाटी थाने पर अपराधियों को पकड़ने के बजाए लैपटॉप के भरोसे थाना प्रभारी, कई अनसुलझे मामले सुलझने की बाट जोह रहे फरियादी प्रतिदिन लगा रहे थाने के चक्कर, चोरों की चुनौतियों को नहीं झेल पा रहे प्रभारी टीआई मनीष दुबे -


 


थाने पर चक्कर लगाते फरियादी 


 



 


सीसीटीवी फुटेज में दिख रहे


अपराधी।



शाजापुर। लालघाटी थाना इन दिनों प्रभारी टीआई के भरोसे चल रहा है। 


 


🔷 वहीं चोरों ने भी प्रभारी टीआई को अपना टारगेट बनाते हुए खुलेआम अपराध कर चुनौती दे दी है। 


 


🔷 वहीं प्रभारी टीआई फिल्ड पर कार्रवाई करने के बजाए केवल लैपटॉप के भरोसे अपराधियों को पकड़ने की कोशिश कर रहे हैं। 


 


🔷 प्रभारी उन्हीं मामलो में सुध लेते हैं और फिल्ड पर जाते हैं जिन मामलों में उन्हें लक्ष्मी दर्शन होते हैं। 


 


🔷 जब से इनकी पदस्थापना हुई है इनके पास आज तक कोई बड़ी उपलब्धि नहीं है। 


 


🔷 यहां पर यदि कोई मामला दर्ज होता है तो फरियादी खुद ही मांडवाली कर चोरों से सुलह कर लेता है। 


 


🔷 क्योंकि एफआईआर करने के बाद भी पुलिस द्वारा ऐसी कोई कार्रवाई नहीं की जाती है जिससे फरियादी का काम हो जाए।


 


लालघाटी थाना क्षेत्र में इन दिनों चोरों ने आतंक मचा रखा है। 


 


वह न तो थाने की परवाह कर रहे हैं और न ही प्रभारी टीआई की।


 


🔷 लालघाटी पुलिस पर यह अनर्गल आरोप नहीं है बल्कि यहां जब से नवीन थाना प्रभारी मनीष दुबे की नियुक्ति हुई है चोरी के मामलों में अचानक बढ़ोत्तरी हो गई है क्योंकि थाना प्रभारी ने दो आरक्षकों के भरोसे थाने को छोड़ दिया है। 


 


🔷 जो थाना संभालने के साथ-साथ कार्रवाई करने का जिम्मा भी उठाए हुए हैं। 


 


🔷 वहीं थाना प्रभारी केवल अपनी कुर्सीै की शोभा बढ़ाने के साथ-साथ अपने लैपटॉप में मगन रहते हैं, जिन्हें यह भी पता नहीं कि उनका थाना क्षेत्र कहां तक है और उनमें कोन-कौन से गांव या शहर के क्षेत्र आते हैं। 


 


🔷 यही वजह है कि इनकी पदस्थापना से लेकर आज तक एक भी मामले मेें पुलिस ने कार्रवाई तो दूर चोरी करने वालों का सुराग तक नहीं लगा पाई है। 


 


🔷 यहां की पुलिस एफआईआर जरुर दर्ज करती है, जो फाईलों से कभी बाहर नहीं आती। 


 


🔷 यदि बाईक चोरी का मामला है तो फरियादी को पुलिस से ज्यादा चोरों पर भरोसा करना पड़ता है क्योकि उन्हें भी पता है कि मांडवाली कर ली तो बाईक तो आ जाएगी, लेकिन यदि पुलिस के भरोसे रहे तो बाईक से भी हाथ धोना पड़ेगा।


 


🔷 बाईक चोरी में अव्वल लालघाटी थाना क्षेत्र


कुछ दिनों पहले विजय नगर में अपने रिश्तेदारों से मिलने आए नितिन चौधरी की नई डिलक्स बाईक बदमाश दिन दहाड़े चुरा ले गए थे। 


 


🔷 इस घटना को एक माह से ऊपर का समय हो चुका है, लेकिन पुलिस के हाथ कोई सुराग नहीं लगा है। 


 


🔷 इनके थाना क्षेत्र में आने वाले नवीन नगर, आदर्श नवीन नगर, हाऊसिंग बोर्ड कालोनी, ज्योति नगर, आदित्य नगर, विजय नगर, अहमद नगर आते हैं जहां कई बार वारदातें हो चुकी है, जहां बदमाश कई बार पुलिस को अपनी कलाकारी दिखा चुके हैं और पुलिस है कि महज वहां पहुंचकर खानापूर्ति कर थाने पर जाकर बैठ जाती है। पुलिस ने वारदातों की रोकथाम के लिए जगह-जगह सीसीटीवी कैमरे भी लगा रखे हैं, जिसमें बदमाश केप्चर भी हुए हैं, लेकिन उसके बाद भी पुलिस के हाथ इनके गिरेबां तक नहीं पहुंच पा रहे हैं।


 


चोरों की चुनौती नहीं झेल पा रहे थाना प्रभारी


 


🔷 बदमाश केवल बाईक चोरी तक ही सीमित नही है बल्कि वे दुकानों और घरों के ताले भी आसानी से चटकाकर अपनी कारस्तानी दिखाकर पुलिस को चुनौती दे चुके हैं। वहीं लालघाटी थाना प्रभारी मनीष दुबे इन चोरों द्वारा दी गई चुनौतियों को झेल पाने में नाकाम साबित हो रहे हैं। जिससे चोरों के हौंसले दिन-ब-दिन बुलंद होते जा रहे हैं।


 


 इधर पुलिस हाथ पर हाथ धरे बैठी है। 


🔷 हाल ही में लालघाटी थाना क्षेत्रांतर्गत आने वाले करेड़ी नाका स्थित एक दुकान से 20 बोरी सोयाबीन चुरा ले गए थे। जबकि लालघाटी पुलिस की गश्त भी इसी क्षेत्र में जारी रहती है।


 


🔷 बावजूद इनकी नाक नीचे से ही बदमाश इस वारदात को अंजाम देकर फरार हो गए।


 


🔷 इसके बाद हमेशा की तरह से पुलिस ने महज रिपोर्ट दर्ज कर अपने हाथ खड़े कर दिए। 


 


🔷 यही वजह है कि यहां के थाना प्रभारी की फिल्ड से ज्यादा अपने लेैपटॉप के भरोसे ज्यादा रहते हैं। उन्हेंं लगता है कि हर अपराधी केवल लेैपटॉप से ही पकड़ में आता है।


 


🔷 इनका कहना है...


 


लालघाटी थाना क्षेत्र मेंं बढ़ रही आपराधिक घटनाओं को लेकर थाना प्रभारी को सख्त निर्देश दिए गए हैं और जल्द ही पेेंंडिंग मामले में कार्रवाई कर अपराधियों को गिरफ्तार किया जाएगा। यदि मामले में लालघाटी थाने द्वारा ढिलाई बरती जाती है तो सख्त कार्रवाई की जाएगी।


पंकज श्रीवास्तव, पुलिस अधीक्षक -शाजापुर


Popular posts from this blog

बड़नगर की होटल शिव पैलेस में, पुलिस ने दी दबिश, एक युवक युवती को संदिग्ध अवस्था में लिया हिरासत में

रिश्वत कांड में टी, आई, अर्चना नागर एवं एस ,आई, जीवन भिडोरे सहीत तीन को किया पुलिस लाईन संबद्ध "मामला बड़नगर पुलिस थाने का"

पूर्व विधायक गंगाराम परमार का हुआ निधन,शोक लहर छाई