लंबे अंतराल के बाद,लोक सभा सासंद एवं साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर पहुंचीं भोपाल-

 


 



 


कांग्रेस के कार्यकाल में मेरे साथ बहुत प्रताडना की थी


 चुन्नीलाल परमार-


उज्जैन / कोरोना के संकट काल समय में ,सासंद एवं साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर का संसदीय क्षेत्र में नदारद रहने से, विपक्ष शब्दों से आलोचना करते आयें हैं, ओर आलोचना जायज भी थी संकटकालिन समय में प्रजा को ला वारिस छोडना आलोचना का कारण बनता ही हैं ।


🔷 सांसद एवं साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर ने मीडिया के प्रश्नो के जवाब के उत्तर में बताया कि, में कंही गायब नहीं हुई थी, लोक सभा सत्र काल में प्रधानमंत्री के व्हिप के कारण हम दिल्ली में ही रहें हैं ।, आकस्मिक लोक डाउन होने के कारण आवागमन के साधन अवरुद्ध हो गयें थें,ट्रेने बंद ओर फ्लाइट कम हो चूकी थी,। मेरे साथ सात आठ लोग ओर थें सुरक्षा दस्ता,मात्र एक टिकट ही मिल पाई थी ।, मैं चाहती हुईं भी मैं भोपाल नहीं आ सकी हूँ ।


🔷 चूंकि हमें लॉक डाउन का पालन भी करना था ।


🔷 सांसद ने कहा मैंने हेल्पलाइन नंबर जारी किया हुआ हैं, उसके माध्यम से में पूरी मदद भाजपा के कार्यकर्ताओं के माध्यम एवं मेरे प्रतिनिधि के माध्यम से जनता की पीडा का निदान करवाती रही हूँ ।


 🔷  चूंकि में साध्वी हूँ, इस लिए अन्न दान भोजन दान भंडारा करवाना मेरे कार्यों में आवश्यक है, जिनको मैंने उचित माध्यम से करवाया भी हैं,।साध्वी होने के कारण उसका बखान करना उचित नहीं है ।


🔷 करोगे याद तो हर बात याद आयेंगी


सांसद एवं साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर ने अपनी पिछली पीडा को फीर उकेर कर मीडिया को बताया कि, कांग्रेस के कार्यकाल में मेरे साथ बहुत प्रताडना की थी, जिसके अवसाद से में अभी भी ठीक से उभर नहीं पायी हूँ ।


🔷 प्रताडना का दर्द ओर बीमारी के कारण ,मुझे आखों से दिखाई देना लगभग बंद हो गया था, एक आखं से तो मुझे आज भी बिल्कुल दिखाईं नहीं दे रहा है ओर एक आंख से धुंधला दिखाईं दे रहा ।,मस्तिष्क में मवाद जम गया था । मुझे जिन्होने चुना है, उनके साथ में आज भी हूँ मैंने सबके लिए उचित मदद की हैं बताने में स्वयं को संकुचित महसूस करती हूँ ।


🔷 सांसद एवं साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर के प्रताडना ओर आखों की बीमारी के इन बयानों को, कांग्रेसी जनता की आलोचना से प्रज्ञा सिंह स्वयं को बचाने का बहाना बता रहे हैं ।


Popular posts from this blog

बड़नगर की होटल शिव पैलेस में, पुलिस ने दी दबिश, एक युवक युवती को संदिग्ध अवस्था में लिया हिरासत में

रिश्वत कांड में टी, आई, अर्चना नागर एवं एस ,आई, जीवन भिडोरे सहीत तीन को किया पुलिस लाईन संबद्ध "मामला बड़नगर पुलिस थाने का"

पूर्व विधायक गंगाराम परमार का हुआ निधन,शोक लहर छाई