शासन प्रशासन खेल रही है झूठ मूठ का खेल सारे दावे धरे के धरे रह गए "


दावे धरे के धरे रह गए


उज्जैन / जी हां हम बात कर रहे हैं उज्जैन जिले की जहां प्रशासन कुंभकरण की नींद सोया है l इन दिनों कोरोना के नए मामले सामने आ रहे हैं l जिसके चलते इस महामारी से निपटना और भी मुश्किल हो गया है l की कैसे इस चक्रव्यूह से बाहर निकला जाए या यू कहे तो पुराने कलेक्टर जैसे नए कलेक्टर साहब भी ऐसे ही साबित हो रहे हैं


जब आधा शहर गहरी नींद में सोया हो जब कोरोना हेल्थ बुलेटिन जारी किया जाता है l यह भी एक चिंता का विषय है और वह भी भगवान भरोसे ही जारी होता है l बुलेटिन में भी पिछली बार कई गड़बड़ियां हुई जिम्मेदारों ने बताया था कि 8:00 बजे कोरोना हेल्थ बुलेटिन जारी होगा लेकिन समय पर बुलेटिन नहीं आने से कई लोग चिंतित रहते हैं  बुलेटिन देखने के लिए पर जब तक बुलेटिन आता है उनकी आधी रात हो जाती है l अब इसका दोषी कौन 


राम जाने ❓


2 दिनों से लगातार कोरोनावायरस के आंकड़े बढ़ते जा रहे हैं प्रशासन बैठा है सुस्त, प्रशासन को भी क्या कोरोना का भय खाए जा रहा है ❓


 


मीटिंग पर मीटिंग ली जा रही है पर कोरोनावायरस पर अभी तक अंकुश नहीं l अब इसे क्या माने जनता की लापरवाही या प्रशासन की लापरवाही l 


Popular posts from this blog

जनता को लूटने के लिए लगाए जा रहे हैं नए मीटर --विधायक महेश परमार

करणी सेना मूल की महारैली में उमड़ा जनसैलाब। हजारों की संख्या में पहुंचे

एसपी के कड़े निर्देष के बाद भी कई थाना क्षेत्रों में फल-फूल रहा सट्टा कारोबार अधिकारियों की आंखों में धूल झोंक कई थाना प्रभारियों की शै पर सटोरिये पर्चियों के साथ-साथ मोबाइल पर खिला रहे गुल