किसानों पर पुलिस की बर्बरता पूर्ण कार्यवाही की हो रही है हर कहीं निंदा- पुलिसकर्मी पर कार्रवाई नहीं होती है तो किसान करेंगे आंदोलन

 



इस मामले पर किसानों का क्या कहना वीडियो देखने के लिए तीनों लिंक पर क्लिक करें


👇👇👇👇👇


https://youtu.be/IN9jc8mX4eY


https://youtu.be/4AI_vzUGVVI


https://youtu.be/sVTYoBXT7Ts



पुलिसकर्मी पर कार्रवाई नहीं होती है तो किसान आंदोलन


उज्जैन / पुलिस चौकी नागझिरी उज्जैन के  पुलिस कर्मी शंकरलाल द्वारा, किसान के साथ मारपीट से किसानों में दशहत, थाना प्रभारी अधिकारी लगे अपने अधीनस्थ को बचाने-
गेहूं उपार्जन साइलो केन्द्र पर अपनी उपज बेचने गयें थे एक किसान के साथ पुलिस कर्मी शंकरलाल द्वारा महज इसके लिए मारपीट की गयी की वह ट्रेक्टर में पुलिसकर्मी को कहकर ट्रेक्टर में डिजल भरवाने गयें थें, ओर जहां अपना क्रम था वहीं पुनः ट्रेक्टर खडा करना चाह रहे थे, किसान को अपना ट्रेक्टर यथा स्थान लगाने की भरपाई पुलिस कर्मी के हाथों मार खाकर चुकाना पडे,किसान जब पुलिस कर्मी ओर आगे पीछे खडे ट्रेक्टर मालिकों को यह कहकर डीजल भरवाने गयें थें की में डिजल भरवाकर पुनः जहां ट्रेक्टर लगा था वहीं पुनः ट्रेक्टर खडा करूंगा जिसपर पुलिस कर्मी ओर आगे पीछे खडे ट्रेक्टर मालिकों को कोई आपत्ति न थी, किन्तु जैसे किसान डीजल भरवाकर पुनः लोटकर अपने पूर्व स्थान पर ट्रेक्टर खडा करना चाहा तो पुलिस कर्मी ने मार पीट चालु कर दी ओर कहने लगा तुम्हारे ट्रेक्टर अंतिम में खडा करों,जबकि आगे पीछे खडे ट्रेक्टर मालिकों को उक्त किसान के ट्रेक्टर को पूर्व स्थान पर ट्रेक्टर खडा करने में कोई एतराज नहीं था । फीर एकाएक पुलिस वाले को क्या आपत्ति हुई जो किसान को लगा मारने !!! उक्त  घटना मैं


किसान का मोबाइल डैमेज हुआ


किसान द्वारा बताया गया कि ₹16000 का मोबाइल डैमेज हो गया है किसानों में दशहत का माहोल बन गया है ।
किसानों ने कहा हैं की उक्त पुलिस कर्मी  के विरुद्ध कोई शासन सख्त कार्यवाही नहीं करता हैं तो, हम किसानों को आंदोलन के लिए खडा होना पडेगा ।



  वैसे भी किसान अपनी उपज लेकर चार चार दिनों से सडकों पर पडे हैं, शासन के नियम है कि एक दिन में मात्र छह किसानों की फसल ही क्रय होगी तो फिर यह सैकडों ट्रेक्टरो की कतारें कैसें लग रही है इन्हें कोंन से सूचना तंत्र से जानकारी पहुंचाई जा रही है!!यह जांच का विषय हैं ।  एक साथ सेकंडो ट्रेक्टरो की लाइन देखकर भ्रष्टाचार से मना नहीं कर सकते हैं ।


निहारिका वाणी चर्चा में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता


अनिल गंगवाल ने बताया कि गुरुजी बिहार पर थे मैं उनके साथ था जहां पर पुलिसकर्मी द्वारा अन्नदाता ओं के साथ अभद्र व्यवहार किया जा रहा था जो एक निंदनीय  है और पुलिसकर्मियों पर सख्त कार्रवाई होना चाहिए


वरिष्ठ कांग्रेस नेता  अनिल गंगवाल



जब इस संबंध में ड्यूटी पर तैनात पुलिसकर्मी शंकरलाल से घटना के बारे में बाइट लेना चाही तो बाइट नहीं देते हुए मीडिया कर्मी से अभद्रता की और कहने लगे टीआई से बात कर लो


 शंकरलाल


जब इस संबंध में थाना प्रभारी राममूर्ति शाक्य से चर्चा करना चा ही तो हमेशा की तरह इस बार भी फोन रिसीव करना उचित नहीं समझा


Popular posts from this blog

बड़नगर की होटल शिव पैलेस में, पुलिस ने दी दबिश, एक युवक युवती को संदिग्ध अवस्था में लिया हिरासत में

रिश्वत कांड में टी, आई, अर्चना नागर एवं एस ,आई, जीवन भिडोरे सहीत तीन को किया पुलिस लाईन संबद्ध "मामला बड़नगर पुलिस थाने का"

पूर्व विधायक गंगाराम परमार का हुआ निधन,शोक लहर छाई