गेहूं उपार्जन खरीदी केंद्र पर शासन के पत्र से किसानों के तनी भौए- माजरा भाटपचलाना का देखते ही देखते बन गया नजारा


 


 (चुन्नीलाल परमार)


उज्जैन / बड़नगर / यूँ तो मध्यप्रदेश के हर गेहूँ उपार्जन क्रय केन्द्रों पर लापरवाही ओर किसानो की उपेक्षा के संदेश मिलते आ रहें थें, किन्तु बड़नगर क्षेत्र के किसानों ने अपनी धैर्यता आज तक बना रखी थीं,एसा नहीं की बड़नगर तहसील क्षेत्र के किसानों की गेहूं फसल ता तारीख में ही तुल गयी हो,यहाँ भी चार चार दिनों तक किसान अपने ट्रेक्टर लेकर तुलाई क्षेत्र में प्रतिक्षा करते रहें हैं, बावजूद इसके शिक्षित और समंझदार किसान होने का परिचय धैर्यता से देते आयें हैं ।


 



बताया जाता है हैं की शासन से एक पत्र कृय कार्यालय को प्राप्त हुआ है,जिसमें उल्लेख हैं की दिनांक 8 मई से 11 मई तक जिन किसानों को गेहूं तुलाई संदेश प्राप्त हुए हैं,ऊनकी उपज नही तोली जायेगी,जबकि उक्त अवधि के ट्रेक्टर बारदान के अभाव में,अपनी उपज नही तोल पायें थें ,ओर अपने ट्रेक्टर तुलाई प्रतिक्षा में कृय केन्द्र पर ही जब से ही खडे हैं , यह संदेश जानकर किसानों के आक्रोश का ठिकाना ना रहा ।


किसानों ने कृय तुलाई बंद करवा दी, पुलिस को संभालना पढा मोर्चा । किसानों का आक्रोश जायज भी था वे 8 तारीख से आजतक प्रतिक्षा में थें ,ओर शासन का तुगलकी आदेश प्राप्त हुआ, की 11 तारीख के बाद प्राप्त मेसेज वाले का गेहूं तोला जावे,जबकि उसके पूर्व के प्राप्त मेसेज किसानों का माल नहीं तोला जावे एसा आदेश सरासर गलत है ।


 


सब गडबड झाला पेदा करने वाला शासन का मेसेज सिस्टम हैं । शासन के नियमानुसार कोविड 19 के कारण प्रतिदिन 6 किसानों की उपज तोलना ही प्रस्तावित था, किन्तु मेसेज प्रतिदिन लगभग 40 किसानों को प्राप्त हो रहें हैं ,इसलिए गेहूं कृय उपार्जन केन्द्र ओर किसान हो रहें हैं परेशान,वहीं बारदानो की किल्लत भी आग में घी का काम कर रही है ।


ग्राम मलोडा के किसान पवन प्रजापत ओर भाटपचलाना के किसान दिनेश रजक ने आदी किसानों ने , किसानों की समस्या हल नहीं होने पर, दी आंदोलन की चेतावनी ।


 


निहारिका वाणी चर्चा मैं


 


जब इस विषय पर नायब तहसीलदार श्रीमती रूपकला परमार से, दूरभाष पर चर्चा मैं


 


 



नायब तहसीलदार


इनका कहना, 


 


वाकई मैं s.m.s. ओर बारदान की अव्यवस्था के कारण किसानों को हो रही है परेशानी, मैने भ्रमण के दौरान पाया की, खरसौद कला, सलवा, बादंरबेला,भाटपचलाना गेहूं केन्द्रो पर किसानों को परेशानी हो रही है, मैने वरिष्ठ अधिकारियों को मामले से अवगत करवा दिया है । शीघ्र ही किसानों की समस्या समाधान हो जायेगा ।


 


नायब तहसीलदार श्रीमती रूपकला परमार बड़नगर


 


वर्षा ऋतु सर पर मंडरा रही है खुल्ले में पडा हजारों क्विंटल गेहूं इस ओर भी शासन को ध्यान रखना चाहिए ।


Popular posts from this blog

जनता को लूटने के लिए लगाए जा रहे हैं नए मीटर --विधायक महेश परमार

करणी सेना मूल की महारैली में उमड़ा जनसैलाब। हजारों की संख्या में पहुंचे

एसपी के कड़े निर्देष के बाद भी कई थाना क्षेत्रों में फल-फूल रहा सट्टा कारोबार अधिकारियों की आंखों में धूल झोंक कई थाना प्रभारियों की शै पर सटोरिये पर्चियों के साथ-साथ मोबाइल पर खिला रहे गुल