भाटपचलाना पुलिस ने हत्यारे के नाटक का किया पर्दाफाश-

 



हत्यारे के नाटक का किया पर्दाफाश-


 (चुन्नीलाल परमार ) 


(भाटपचलाना /बड़नगर) 


 भाटपचलाना पुलिस थाना अंतर्गत गांव बालोदा लक्खा में पति-पत्नी के बीच टकराव चलते रहते थें, सूत्रो से ग्यात हुआ है की लगभग 15 वर्ष पूर्व अभियुक्त नाहर सिंह ओर मृतका राजु बाई ने विवाह किया था । दोनों के बीच लंबे समय से मन मुटाव चल रहें थें, जिसकी अंतिम परिणति लट्ठ की मार से पत्नी की हत्या से हुई, दिनांक 6 मई को नाहर सिंह ने पत्नी राजू बाई पर लट्ठ से वार कर दिया था परिणाम स्वरूप मृतक राजू बाई गंभीर रुप से घायल हो गयी थी, उपचार के दौरान दिनांक 8 मई को राजू बाई की मृत्यु हो गयी , भाटपचलाना पुलिस ने  भारतीय दंड संहिता की धारा 302 मर्ग कायम करके विवेचना प्रारंभ की ।


पुलिस को गुमराह करने के लिए अभियुक्त पति नाहर सिंह ने किया सल्फास खाने का नाटक- बड़नगर चिकित्सालय में उपचार के दौरान पत्नी की मृत्यु का पता जैसे ही पति नाहर सिंह को चला उसने पुलिस से बचने ओर पत्नी के अंतिम संस्कार से बचने के लिए सल्फास नामक जहर खाने का नाटक किया,  मृतकका  का शव लेने जब परिवार जन कोई नहीं आये तब पुलिस को ही मृतका राजु बाई अंतिम संस्कार करना पडा । अंतो गत्वा पुलिस  ने नाहर सिंह को दिनांक 8 मई को ग्राम पंचायत भवन बालोदा लक्खा से गिरफ्तार कर लिया एव घटनाओं में प्रयुक्त लाठी को जब्त करके मुलजिम नाहर सिंह को दिनांक 9 मई को न्यायालय में पेश किया न्यायालय ने जेल वारंट बना दिया है ।


 प्रेस कान्फ्रेंस आमंत्रित करके प्रकरण की वस्तु स्थिति से अवगत करवाते थाना प्रभारी 


इनकी रही महत्वपूर्ण भूमिका


थाना प्रभारी राघवेन्द्र सिंह कुशवाह एवं ए एस आई अशोक बैरागी,ए एस आई परिहार । आरक्षक राम नारायण चौहान ।


Popular posts from this blog

जनता को लूटने के लिए लगाए जा रहे हैं नए मीटर --विधायक महेश परमार

करणी सेना मूल की महारैली में उमड़ा जनसैलाब। हजारों की संख्या में पहुंचे

एसपी के कड़े निर्देष के बाद भी कई थाना क्षेत्रों में फल-फूल रहा सट्टा कारोबार अधिकारियों की आंखों में धूल झोंक कई थाना प्रभारियों की शै पर सटोरिये पर्चियों के साथ-साथ मोबाइल पर खिला रहे गुल