14 मई को स्टील सायलो खरीदी केन्द्र पर शिकायत होने पर जांच की गई जिसमें कुछ किसान स्वयं के एसएमएस नही होने के बावजुद भी दूसरे किसानो को प्राप्त एसएमएस को एडीटिंग कर उसमे अपना नाम एवं किसान कोड दर्ज कर समर्थन मूल्य पर गेहूॅ विक्रय के लिये लाया जाना पाये जाने के कारण गेहूॅ की टेक्टर ट्रालियो को रिजेक्ट किया गया

 



फर्जी मैसेज वाले हो जाओ सावधान नहीं तो होगी कड़ी कार्रवाई


(वीरेंद्र ठाकुर) 


उज्जैन । रबी विपणन वर्ष 2020-21 में समर्थन मूल्य पर गेंहू खरीदी के लिए कुल 98730 किसानोे ने पंजीयन कराया गया था। जिसमें से आज दिनांक तक 76000 किसानो को एसएमएस भेजे जा चुके है। एसएमएस प्राप्त किसानो में से आज दिनांक तक कुल 58148 किसानो से गेंहू 3,29,224 में.टन की खरीदी कि जा चुकी है। एसएमएस भेजकर ही वास्तविक एसएमएस वाले किसानो से गेहूॅ की खरीदी, खरीदी केन्द्रो पर की जा रही है। विगत वर्ष 2019 -20 में दो माह की खरीदी अवधि में कुल 27000 किसानो से 1.97 लाख में.टन की खरीदी हुई थी एवं कुल पंजीकृत 62000 किसानों में से 27000 किसानो ने ही अपनी उपज का समर्थन मूल्य पर विक्रय किया गया था।


 


कलेक्टर आशीष सिंह द्वारा उपार्जन कार्य की प्रतिदिन समीक्षा कर सभी अधिकारियों को सख्त निर्देष दिये गये है कि खरीदी केन्द्रो का सघन निरीक्षण दौरा करें। किसानो की समस्यों का मौके पर ही त्वरित निकारण किया जाए। किसान को अपनी उपज विक्रय करने में किसी प्रकार की कठिनाई न हो यह सुनिश्चित करने के निर्देश दिए गए है । कलेक्टर ने सभी खरीदी केन्द्रो पर सोशल डिस्टेसिंग का पालन कराने को कहा है । जिले में गेहूॅ उपार्जन का संषोधित लक्ष्य 4.5 लाख मेटन किया गया है और उक्तानुसार बारदाने तथा भण्डारण की पर्याप्त व्यवस्था करने के निर्देश दिए गए है । 


 


 उल्लेखनीय है कि इसवर्ष


22 अप्रैल-2020 से आज दिनांक तक 23 दिवस में 58148 किसानो से 3,29,224 में.टन गेंहू कि रिकार्ड खरीदी की गई है । आज दिनांक तक 31 हजार किसानों को 235 करोड़ का भुगतान भी किया जा चुका है। किसान भाईयो को एसएमएस भेजकर 26 मई तक खरीदी की तिथि निर्धारित की गई है। जिला प्रशासन द्वारा उपार्जन से शेष समस्त किसानो को 26 मई के पूर्व एसएमएस भेजने की तैयारी की गई है। ताकी समस्त पंजीकृत किसानो से गेंहू की खरीदी की जा सके। किसान भाई उनको वास्तविक रूप से एसएमएस प्राप्त होने पर ही गेेंहू की खरीदी की जावेगी। 


 


14 मई को स्टील सायलो खरीदी केन्द्र पर शिकायत होने पर जांच की गई जिसमें कुछ


किसान स्वयं के एसएमएस नही होने के बावजुद भी दूसरे किसानो को प्राप्त एसएमएस को एडीटिंग कर उसमे अपना नाम एवं किसान कोड दर्ज कर समर्थन मूल्य पर गेहूॅ विक्रय के लिये लाया जाना पाये जाने के कारण गेहूॅ की टेक्टर ट्रालियो को रिजेक्ट किया गया


 


एवं ऐसे किसानो को सख्त चेतावनी दी गई की भविष्य में ऐसा कार्य किया जाता है तो उनके विरू़द्व कडी वैधानिक कार्यवाही की जावेगी। किसान भाईयो से आग्रह है कि वे स्वयं का अपना पंजीयन कोड, स्वयं का एसएमएस आता है तभी खरीदी केन्द्र पर उपज लेकर पहुंचे। 


 


खरीदी केन्द्र पर भोपाल से एसएमएस की सूची आती हैं उसका मोबाईल में प्राप्त एसएमएस का सघन जांच आज से कलेक्टर के निर्देशानुसार की जा रही हैं। अगर कोई एसएमएस को एडिटिंग कर अपनी उपज खरीदी केन्द्र पर लाया जाना पाया जाता हैं तो उसके लिए संबंधित किसान पूर्ण रूपेण उत्तरदायी होगा। किसान भाईयो से पूनः आग्रह है कि स्वयं का एसएमएस प्राप्त होने पर ही केन्द्र पर पहुंचे। सभी पंजीकृत इच्छुक किसानो भाईयो से गेहूॅ की खरीदी की जावेगी।  जिले से खरीदी केन्द्र की प्रतिदिन तौलकांटे, हम्माल की व्यवस्था ओर पंजीकृत किसानो की संख्या के मान से खरीदी केन्द्र की संख्या निर्धारित कर केवल संख्या एनआई सी भोपाल को भेजी जाती हैं। एनआईसी भोपाल द्वारा रेण्डमली किसानो का चयन कर किसानो को एसएमएस भेजे जाते है। 


Popular posts from this blog

बड़नगर की होटल शिव पैलेस में, पुलिस ने दी दबिश, एक युवक युवती को संदिग्ध अवस्था में लिया हिरासत में

रिश्वत कांड में टी, आई, अर्चना नागर एवं एस ,आई, जीवन भिडोरे सहीत तीन को किया पुलिस लाईन संबद्ध "मामला बड़नगर पुलिस थाने का"

पूर्व विधायक गंगाराम परमार का हुआ निधन,शोक लहर छाई