लक्ष्मी बाई पति अशोक दानी गेट उज्जैन की मृत्यु सांस लेने में तकलीफ के कारण हुई

 


 


 उज्जैन / .उज्जैन के दानी गेट निवासी लक्ष्मी बाई पति अशोक आयु 55 वर्ष की मृत्यु सॉस लेने में तकलीफ के कारण हुई है। उक्त महिला का कोरोनावायरस से प्रभावित होना संदिग्ध पाया गया जिसके कारण उनकी जांच के लिए सेम्पल भेजा गया है ।इसकी रिपोर्ट अभी नहीं आई है ।


  स्वास्थ्य विभाग ने बताया कि उक्त महिला 2 अप्रैल को रात्रि 7:00 बजे जिला अस्पताल में भर्ती हुई, 3 अप्रैल को सुबह 1.30 बजे उक्त मरीज के रक्त में ऑक्सीजन की कमी देखी गई इसके मद्देनजर उक्त महिला को माधव नगर अस्पताल में सुबह तीन बजकर बत्तीस मिनट पर भर्ती किया गया ।माधव नगर अस्पताल में वेंटीलेटर का परिचालन व्यवस्थित नहीं हो पाया इस कारण मरीज को सुबह 7:00 बजे आर डी गार्डी मेडिकल कॉलेज भेजा गया क्योंकि लक्ष्मी बाई की कोरोना वायरस की रिपोर्ट नहीं आई थी इस कारण उक्त महिला को कोरोनावायरस अन्य मरीजों के साथ वार्ड में नहीं रखना था। उनको आइसोलेशन के अलग वार्ड में जिसमें ऑक्सीजन लाइन तथा वेंटिलेटर की व्यवस्था आर डी गार्डी मेडिकल कॉलेज द्वारा की गई थी में रखना था। किंतु महिला के परिजन आरडी गार्डी मेडिकल कॉलेज के चिकित्सा कर्मियों की यह बात घबराहट एवं शोर-शराबे में नहीं सुन पाए और उन्होंने अस्पताल के आईसीयू जहां चार कोरोनावायरस के मरीज भर्ती थे का गेट का ताला तोड़ दिया ।जिसका वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। इसी दौरान उक्त महिला की 3 अप्रैल को प्रातः 7:50 पर मृत्यु हो गई ।


 


 कलेक्टर शशांक मिश्र द्वारा उक्त महिला के माधव नगर अस्पताल में उपचार के दौरान लापरवाही को लेकर सख्त कदम उठाते हुए माधव नगर के प्रभारी एवं सिविल सर्जन के विरुद्ध कार्रवाई की गई तथा प्रकरण की जांच के आदेश दे दिए गए हैं ।


Popular posts from this blog

जनता को लूटने के लिए लगाए जा रहे हैं नए मीटर --विधायक महेश परमार

करणी सेना मूल की महारैली में उमड़ा जनसैलाब। हजारों की संख्या में पहुंचे

एसपी के कड़े निर्देष के बाद भी कई थाना क्षेत्रों में फल-फूल रहा सट्टा कारोबार अधिकारियों की आंखों में धूल झोंक कई थाना प्रभारियों की शै पर सटोरिये पर्चियों के साथ-साथ मोबाइल पर खिला रहे गुल